शायरी एसएम्एस

किसी और के बाहों

1

किसी और के बाहों में रहकर, वो हमसे वफ़ा की बातें करते है, ये कैसी चाहत है यारों, वो बेवफा है जानकार भी, हम उन्ही से प्यार करते है।

इश्क ऐसा करो

4

इश्क ऐसा करो की धड़कन में बस जाए, सांस भी लो तो खुशबु उसी की आये, प्यार का नशा आँखों पे चा जाए, बात कुछ भी ना हो पर नाम उसी का आये।

पल पल उसका साथ

2

पल पल उसका साथ निभाते हम; एक इशारे पर दुनिया छोड़ जाते हम,  समुन्दर के बीच में पहुँच कर फरेब  किया उसने, वो कहते तो किनारे पर ही डूब जाते हम।

कलम चलती है

0

कलम चलती है तो दिल की आवाज़ लिखता हूँ, गम और जुदाई के अंदाज़ इ बयान लिखता हूँ, रुकते नहीं हैं मेरी आँखों से आंसू, मैं जब भी उसकी याद में अलफ़ाज़ लिखता हूँ

कुछ सोचूं तो

1

कुछ सोचूं तो तेरा खयाल आ जाता है, कुछ बोलूं तो तेरा नाम आ जाता है, कब तक छुपाऊं दिल की बात, उसकी हर अदा पर मुझे प्यार आ जाता है !

Go to Top